dr.manoj yogacharya

मंडूकासन कैसे करे

मंडूकासन  –

यह पेनक्रिया व शुगर के लिए मंडूकासन बहुत ही अच्छा रहता है मंडूकासन करने से जो हमारे  पेट की आंतो  में वायु भरी रहती है  वह धिरे धिरे  कम होने लगती है जिस के कारण जिन व्यक्तियों का पेट बहुत टाइट रहता है वह नरम हो जाता है

  • महिलाओ के लिए भी मदुकासन करने से उनमे हार्मोन सबधित समस्या का समाधान हो जाता है
ध्यान दे –
  • जिन व्यक्तियों का कोई भी बहोत बड़ा ओप्रेसशन हुआ हो उन लोगो को मंडूकासन नहीं करना चाहिए
  • जिन व्यक्तियों के आंतो  में अलसर हो या आंतो में किसी भी प्रकार का कटाव हो तो उन्हें मंडूकासन नहीं करना चाहिए
  • हार्ट पेसेंट को भी आगे झुकना नहीं चाहिए इस लिए उन्हें मंडूकासन नहीं करना
  • यदि आपके कमर में बहुत ज्यादा दर्द हो तो आपको भी उन्हें मंडूकासन नहीं करना

 मंडूकासन कैसे करे

मंडूकासन कैसे करना चाहिए-
  • सबसे पहले आप वज्रासन में बैठ जाइये यदि आप से वज्रासन में नहीं बैठा जा रहा तो आप सुखासन में बैठ सकते है पर संभव हो तो वज्रासन में ही बैठे
  • आपने हाथ के अगुठे को अगुलियों के निचे रख कर मुठी बंद करे
  • नाभि के दाये व बाये एक – एक इंच की जगह छोड़ कर बंद मुठी को अपने पैट पे लगयेमंडूकासन कैसे करे
  • एक लम्बा सवास लीजिये  और लम्बा सवास छोड़िये ! सवास छोड़ने के पश्चात नाभि को अंदर की और खींचे और आगे की और झुक जाये
  • गर्दन को सामने की और रखे और कुछ समय तक झुके रहे
  • यदि आप थोड़े ज्यादा देर के लिए झुके रहते है तो आप धिरे धिरे करके सवास ले सकते है और फिर सवास लेते हुए वापस ऊपर हो जाये
मदुकासन में मडु  का मतलब होता है मेडक ,इस आसन में आप की पोजीसन एक मेडक जैसी हो जाती है
और अधिक अच्छे से समझने के लिए कृपया हमारे वीडियो को देखे

Leave a Comment